पाकिस्तान के करांची में हुआ विमान हादशा ! रिहाइशी इलाके में हुआ क्रैश !

पाकिस्तान से एक बहोत ही दुखद खबर सामने आरही है ! पाकिस्तान के करांची में एक बहोत ही बड़ा विमान हादशा हुआ है ये हादशा दोपहर के लगभग 2:45 मिनट्स पे हुआ ! जिसमे बताया जा रहा है की 103 लोगो की मौत हुयी है !

 

बताया जा रहा है की ( PIA ) पाकिस्तान इंटरनैशनल एअरलाइन्स का विमान संख्या PK 8303  में 98 लोग सवार थे जिसमे 91 पैसेंजर और 7 क्रू मेम्बर शामिल है और ये लाहौर से करांची जा रही थी ! और विमान का दोनों इंजन कराची एयरपोर्ट के पास लैंडिंग से पहले फेल हो गया ! जिससे पायलट ने सारे कण्ट्रोल खो दिए और विमान लगातार निचे जाने लगी !

 

और  विमान करांची के एक रिहायसी इलाके में क्रैश हो गया ! ये विमान पहले एक टावर से जाकर टकराया उसके बाद रिहायसी इलाके में मकान के छतो से जाकर टकराया और क्रैश हो गया ! और मकान से टकराने के बाद वहा पे जो लोग उपस्थित थे वे भी हादसे के चपेट में आ गए जिससे काफी ज्यादा जान माल का नुकसान हुआ है ! इस हादसे में बताया जा रहा है की 103 लोगो का मौत हुआ है ! जबकि अभी पाकिस्तान गोवेर्मेंट की तरफ से कोई भी सरकारी आंकड़े नहीं आएं है ! विमान के पायलट ने क्रैश होने से 10 मिनट पहले ATC  एयर ट्रैफिक कण्ट्रोल को बताया था की विमान में कुछ तकनिकी खराबी आगयी है और कुछ मिनट्स बाद ATC से संपर्क टूट गया ! पायलट और ATC का आप ऑडियो भी सुन सकते है !

जिस इलाके में ये विमान क्रैश हुआ वो जिन्ना इंटरनैशनल एयरपोर्ट के काफी नजदीक है जहा 2 से 3 मंजिला मकान बने हुए है जबकि एयरपोर्ट के इतने नजदीक मकान बनाने की इजाजत नहीं होनी चाहिए थी ! इसमें पाकिस्तान के बैंक ऑफ़ पंजाब के प्रेसिडेंट जफर मसूद बच गए है और अब खतरे से बहार है !

 

इस हादसे के बाद नरेंद्र मोदी जी ने भी दुःख जताते हुए कहा की पाकिस्तान में एक विमान दुर्घटना के कारण जानमाल के नुकसान से गहरा दुख हुआ। मृतकों के परिवारों के प्रति हमारी संवेदना, और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हु !

पीएम नरेंद्र मोदी जी के बाद राहुल गाँधी ने भी दुःख जताते हुए कहा की मुझे पाकिस्तान में हुए विमान हादसे के बारे में सुनकर दुख हुआ जिसमें कई लोगों की जान चली गई। बचे लोगों की खबर आशा की एक किरण है और मैं प्रार्थना करता हूं कि आज रात जीवित रहने की कई चमत्कारी कहानियां आये। उन लोगों के परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं, जो खत्म हो चुके हैं !

 

 

Please follow and like us:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *