नॉएडा में अस्पतालों के चक्कर लगाती रही गर्ववती महिला, एम्बुलेंस में मौत !

नॉएडा से एक बहोत ही ह्रदय विदारक खबर आरही है, एक 8 माह की गर्ववती महिला की एम्बुलेंस में ही मौत हो गयी बताया जा रहा है की नॉएडा में गर्ववती महिला हॉस्पिटल की चक्कर लगाती रही लेकिन उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट नहीं किया गया जिसके कारन उनकी मृत्यु हो गयी ! बताया जा रहा है की अगर उन्हें समय पर इलाज मिल जाता तो उनको और उनकी गर्व में पल रहे बचे बच जाते !

 

इसपे  उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा की उप्र में प्रसव के लिए अस्पताल खोजते-खोजते एक गर्भवती महिला की मृत्यु अति दुखद है. सरकार यह बताए कि अगर वो कोरोना के लिए 1 लाख बेड के इंतज़ाम का दावा करती है तो आनेवाली पीढ़ियों के लिए कुछ बेड आरक्षित क्यों नहीं रखे. भाजपा सरकार ये भी बताए कि उसने अब तक कितने अस्पताल बनाए हैं.

बताया जा रहा है की महिला ग़ज़िआबाद की रहने वाली थी और महिला को सांस लेने में दिक्कत आरही थी , उनको जब पहले नॉएडा के ईएसआई हॉस्पिटल ले जाया गया तो ईएसआई ने जिला हॉस्पिटल को रेफर कर दिया, जिला हॉस्पिटल ने शारदा हॉस्पिटल को रेफर कर दिया, फिर वहा से जिम्स हॉस्पिटल को रेफर कर दिया, और जिम्स हॉस्पिटल ने कहा की बेड खली नहीं है , इसके बाद जब महिला को फोर्टिस हॉस्पिटल ले जाया गया वहा भी मना कर दिया , फिर वहा से मैक्स हॉस्पिटल ले जाया गया, और देर होने की वजह से गर्ववती महिला की एम्बुलेंस में ही मौत हो गयी, कई घंटो तक गर्ववती महिला को एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल लेकर दौड़ती रही एम्बुलेंस , और नॉएडा के छोटे से लेकर बड़े प्राइवेट और सरकारी हॉस्पिटल का चक्कर कटरी रही एम्बुलेंस सभी हॉस्पिटल ने मना कर दिया जिसके कारन देर हो जाने से गर्ववती महिला की मृत्यु हो गयी !

Please follow and like us:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *